भारत के ऐसे 6 मंदिर जिनमें बड़े बड़े अमीरजादे इनके आगे फिसड्डी

दोस्तों, आज हम आपके लिए लेकर आ गए हैं एक और नई जानकारी। आप सब ने अपनी ज़िंदगी में कभी न कभी किसी न किसी रूप में दान तो जरूर किया होगा। दान करने के पीछे अलग-अलग लोगों का मकसद अलग-अलग होता है। कुछ लोग इसलिए दान करते हैं कि सदियों पुरानी कहावत है भारत के ऐसे 6 मंदिर दान करने से पुण्य मिलता है। तो वो लोग पुण्य कमाने के लिए दान करते हैं। भारत के ऐसे 6 मंदिर जिनमें बड़े बड़े अमीरजादे इनके आगे फिसड्डी |

कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें कोई ऊंचा पद चाहिए होता है या ढेर सारा पैसा या इसी तरह की अन्य कई सारी इच्छाएं मन में होती हैं जिन्हें पूरा करने के लिए वो लोग भगवान के नाम पर कुछ गरीबों को दान करते हैं। आज हम आपको भारत के ऐसे मंदिरों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनमें चढ़ाए जाने वाले चढ़ावे को अगर गिना जाए तो उस मंदिर की कमाई के आगे बड़े अरबपति जैसे अंबानी और अडानी ग्रुप भी पानी भरते नजर आएं।

भारत के ऐसे 6 मंदिर ऐसे मंदिर हैं जिनमे सबसे ज्यादा दान किआ जाता है

पद्मनाभ स्वामी मंदिर, त्रिवेंद्रम :

दोस्तों, भारत के ऐसे 6 मंदिर, मंदिरों की लिस्ट में जो सबसे पहले नाम आता है वो है पद्मनाभ स्वामी मंदिर। इस मंदिर की गिनती भारत के अमीर मंदिरों में होती है। यह मंदिर तिरुवनंतपुरम् (त्रिवेंद्रम) शहर के बीच में स्थापित है। त्रावणकोर के पूर्व शाही परिवार द्वारा मंदिर की देखभाल की जाती है। यह सबसे प्राचीन मंदिर है।

इस मंदिर का निर्माण इंजीनियरों ने द्रविड़ शैली को ध्यान में रखकर किया है। इस मंदिर की सम्पत्ति की अगर बात की जाए तो यह कुल एक लाख करोड़ है। मंदिर के गर्भगृह में विष्णु भगवान की बहुत ही विशाल मूर्ति लगी हुई है। इसे देखने के लिए देश ही नहीं विदेशों से भी लाखों की संख्या में लोग यहां पर आते हैं।

जो प्रतिमा यहां पर भगवान विष्णु की रखी है उसमें भगवान विष्णु शेषनाग पर शयन मुद्रा में नजर आ रहे हैं। स्थानीय लोगों के अनुसार ऐसी मान्यता है कि तिरुअनंतपुरम नाम, अनंत नामक नाग के नाम पर ही पड़ा है जो कि भगवान विष्णु का नाग है। इस जगह भगवान विष्णु की विश्राम करने की अवस्था को पद्मनाभ के नाम से जाना जाता है। इस रूप में भगवान, पद्मनाभ स्वामी के नाम से जग प्रसिद्ध हैं।

तिरूपति बालाजी मंदिर, आंध्रप्रदेश :

अब बात करते हैं तिरूपति बालाजी मंदिर की। यह मंदिर भारत के दक्षिण में आंध्रप्रदेश के चित्तूर जिले में स्थापित है। इस मंदिर में आपको वास्तुकला का भारत के ऐसे 6 मंदिर अद्भुत नमूना देखने को मिल जाएगा। इसी खासियत यह है कि यह मंदिर सात पहाड़ों से मिलकर बना है। जिस पहाड़ी पर यह मंदिर स्थित है उसका नाम है तिरूमाला की पहाड़ी।

ऐसा कहा जाता है कि तिरूमाला की पहाड़ियां की पहाड़ियां विश्व की दूसरी प्राचीन पहाड़ियों में से एक है। यहां इस मंदिर में वेंकटश्वर भगवान निवास करते हैं। वेंकटेश्वर भगवान को विष्णु जी का अवतार माना जाता है। ऊंचाई की बात करें तो इसकी ऊंचाई समुद्र तल से करीब 2800 फिट की है। इस मंदिर का निर्माण तमिल राजा थोडईमाननें ने करवाया था। इस मंदिर में करीब 50 हजार श्रृद्धालु रोज दर्शन के लिए आते हैं। मंदिर के पास लगभग 50,000 करोड़ की भारत के ऐसे 6 मंदिरकुलसंपत्ति है।

श्री जगन्नाथ मंदिर, पुरी :

पुरी का श्री जगन्नाथ मंदिर मुख्य रूप से विश्व प्रसिद्ध एक हिन्दू मंदिर है। यह मंदिर भगवान जगन्नाथ को समर्पित है। भगवान जगन्नाथ श्रीकृष्ण का ही एक रूप थे। भारत के उड़ीसा राज्य के तटवर्ती शहर पुरी में यह प्राचीन मंदिर स्थापित है। चलिए आपको इस शब्द के बारे में भी बता देते हैं।

दरअसल, जगन्नाथ का शाब्दिक अर्थ होता है जगत के स्वामी। इनकी नगरी को ही लोग जगन्नाथपुरी या पुरी के नाम से जानते हैं। हिन्दुओं के प्रसिद्ध चार धामों में इस मंदिर का नाम भी शामिल है। भारत के ऐसे 6 मंदिर यह मंदिर वैष्णव सम्प्रदाय से संबंधित है। पुरी जगन्नाथ मंदिर में रखी भगवान जगन्नाथ की मूर्ति को कुल 209 किलो सोने से सजाया जाता है।

इस मंदिर में लोग जो भी चढ़ावा चढ़ाते हैं उसे मंदिर की व्यवस्था और सामाजिक कामों में प्रयोग किया जाता है। सालाना कमाई पर नजर डालें तो इस मंदिर की सालाना कमाई बनती है करीब 150 से 200 करोड़ रुपए। ऐसा भी कहा जाता है कि इस मंदिर में बेशुमार संपत्ति से भरे 5 तयखाने भी हैं। लेकिन आज तक इन्हें खोला नहीं गाया है।

Read Also: 7 WONDERFUL PLACES IN THE WORLD WE MUST TRAVEL ONCE FOR BEAUTIFUL SCENERY

शिरडी का सांई मंदिर:

सांई बाबा एक भारतीय गुरु, फकीर और योगी थे। केवल भारत में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में सांई बाबा के करोड़ों भक्त मौजूद हैं। सांई के भक्त उन्हें संत कहते हैं। सांई बाबा कौन थे, कहां से आए थे, उनका जन्म कहां हुआ और उनके माता-पिता कौन थे इसके बारे में आज तक पता नहीं चल पाया है।

जब वो भारत के पश्चिमी भाग में स्थित महाराष्ट्र के शिर्डी नामक स्थापन पर पहुंचे उसके बाद उन्हें सांई शब्द मिला। इसी शिर्डी में सांई बाबा का विशाल और भव्य मंदिर बना हुआ है। भारत के ऐसे 6 मंदिर एक अनुमान के मुताबिक भारत के सबसे अमीर मंदिरों में शामिल शिर्डी सांई मंदिर के पास लगभग 32 करोड़ की चांदी के जेवर हैं।

जिस सिंहासन पर सांई बाबा बैठते हैं वो सिंहासन 94 किलो सोने से बना हुआ है। इस सिंहासन की कीमत बनती है करीब 100 करोड़ रुपए से भी ज़्यादा। सांई बाबा ट्रस्ट के बैंक अकाउंट में 1800 करोड़ रुपए, 380 किलो सोना, 4500 किलो चांदी और बहुत अधिक संख्या में विदेशी मुद्रा भी जमा है। इस मंदिर की सालाना कमाई 320 करोड़ रुपए के लगभग है। यहां पर 6 लाख रुपए की कीमत के चांदी के सिक्के भी हैं।

सिद्घिविनायक मंदिर, मुंबई :

सिद्घिविनायक भगवान गणेश जी का ही एक नाम है। यह रूप गणेश भगवान का सबसे लोकप्रिय है। इस मंदिर को 1801 में बनवाया गया था। यहां पर भगवान गणेश के दर्शन करने हर रोज करीब 30 हजार लोग आते हैं।

गणेश जी की जिन मूर्तियों की सूंड का रुख दाहिनी तरफ होता हैए वे सिद्घपीठ से जुड़ी होती हैं। भारत के ऐसे 6 मंदिर साथ ही उनके मंदिर को सिद्घिविनायक मंदिर के नाम से ही जाना जाता है। गणेश भगवान की महिमा अपरंपार है। वे भक्तों के सभी कष्ट दूर करते हैं और उनकी मनोकामना को पूरा करते हैं।

ऐसा माना जाता है कि भगवान गणेश बहुत जल्द प्रसन्न हो जाते हैं। उन्हें सबसे ज्यादा मोदक पसंद थे। अगर गणेश भगवान को किसी बात पर क्रोध आ गया तो फिर क्रोध दिलाने वाले का बचना नामुमकिन होता है। हैरान करने वाली बात यह है दोस्तों कि सिद्धी विनायक मंदिर को करीब 3.7 किलोग्राम सोने से कोट किया है। यह सोना इस मंदिर में कोलकाता के एक व्यापारी ने दान में दिया था। इस मंदिर की सालाना कमाई करीब 128 करोड़ रुपए है।

वैष्णो देवी मंदिर, जम्मू :

दोस्तों जम्मू में स्थित 5200 मीटर की ऊंचाई वाला यह वैषणो देवी मंदिर भारत में हिन्दूओं का पवित्र तीर्थस्थल है। यह मंदिर त्रिकुटा हिल्स में कटरा नामक स्थान पर स्थित है। मंदिर के दर्शन करने हर साल करीब 1 करोड़ श्रद्धालु आते हैं और माता से आशीर्वाद प्राप्त करते हैं।

पौराणिक मान्यता यह है कि एक बार किसी राक्षस का वध करते समय वैष्णों देवी माता इसी गुफा में छुपी थीं और यहीं पर उसे मार गिराया था। इस मंदिर का मुख्य आकर्षण हैं यहां की गुफा में रखे गए तीन पिंड। भारत के ऐसे 6 मंदिर इस मंदिर की देखरेख वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड करता है। इस मंदिर की सालाना कमाई है करीब 500 करोड़ रुपए से भी ज़्यादा।

Read Also: Top 10 Most Beautiful Places to Visit Before You Die

तो दोस्तों, ऐसे ही नाॅलेजेबल फैक्ट्स को जानने के लिए बने रहिए हमारी वेबसाइट ग्लोबल केयर के साथ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here