street food

नमस्कार दोस्तों। आज हम जिस विषय के बारे में आपको बताने जा रहे हैं वो बहुत ही लज़ीज़ है। नहीं समझे क्या? अरे मेरा मतलब है हम आपको भारत में मिलने वाले ऐसे फेमस स्ट्रीट फूड street food जिनके बारे में सुनते ही आपके मुंह में पानी न आ जाए तो कहना। दोस्तों, भारत के अलग अलग राज्यों की अलग अलग पहचान होती है। जैसे किसी राज्य की कोई परंपरा लोगों के आकर्षण का केंद्र होती है, तो किसी राज्य का कोई फेमस प्लेस वहां की पहचान होती है जो उस राज्य को दूसरों से अलग करती है। इसी तरह से हर राज्य का स्ट्रीट फूड भी उस राज्य को अपनी एक अलग पहचान दिलाता है।

दरअसल दोस्तों, स्ट्रीट फूड केवल किसी भी राज्य की परम्परा को भी दर्शाता है। हर राज्य का अपना एक कुकिंग स्टाइल होता है। इसके बारे में भी हमें स्ट्रीट फूड street food से ही पता चलता है। तो तैयार हैं न आप हमारी फूड एक्सप्रेस में सवार होने के लिए और जयेकेदार पकवानों का लुत्फ उठाने के लिए।

ये हैं ‘टॉप’ के स्ट्रीट फूड्स जिन्हें आप जरूर करना चाहेंगे ट्राई | Street Food

वड़ापाव

दोस्तों, मायानगरी मुम्बई केवल अलग-अलग पिकनिक स्पाॅट्स के लिए और बाॅलीवुड के लिए ही फेमस नहीं है। यहां पर जिस प्रकार के लज़ीज़ पकवान मिलते हैं उनकी खुशबू दूर दराज़् तक जाती है और फूडीज़् को अपनी ओर खींच लाती है। वैसे तो वड़ापाव और भी स्थानों पर मिलता है, लेकिन मुंबई में मिलने वाले वड़ा पाव के आगे हर जगह का वड़ा पाव बौना सा लगता है। दोस्तों, कोई भी स्ट्रीट फूड तब फेमस होता है जब उसकी क्लालिटी, क्वांटिटी और जिस एरिया में वो फूड बनाया जा रहा है वहां पर कितनी साफ-सफाई है।

अगर हम आपको एक ऐसी जगह पर खाना खाने के लिए भेजें जहां की फूड की क्वालिटी थर्ड क्लास हो और गंदी जगह पर वो होटल या रेस्टोरेंट हो तो आप क्या करेंगे? हम लिख कर दे सकते हैं स्टाप्म पेपर पे, कि आप एक बार तो वहां चले जाएंगे, खाना भी खा लेंगे लेकिन उस बेस्वाद खाने को खाकर आप न तो खुद दोबारा वहां पर जाना पसंद करेंगे और न ही अपने दोस्तों या रिश्तेदारों को वहां जाने के लिए रिकमेंड करेंगे street food । हां, अगर कोई आपका दुश्मन हो तो उसको आप जरूर ऐसी जगह पर जाने की सलाह देंगे और वो भी उस जगह की झूठी तारीफ करके ताकि वो वहां जाकर खाना खाने पर मजबूर हो जाए।

मुंबई में मिलने वाला वड़ा पाव ए वन क्वालिटी का है जिसकी ख्याति देश ही नहीं विदेशों तक फैली हुई है। आपने बर्गर तो जरूर खाया होगा। तो अगर हम मुंबई में मिलने वाले वड़ा पाव को विदेशी बर्गर का देशी अवतार कह दें तो हमें न कहिएगा कि आप कितनी अच्छी बात बोलते हैं। हम तो सिर्फ सच बोलते हैं जी, अच्छी तो अपने आप लग जाती हैं street food । हा हा हा। दोस्तों, इसके साथ जो तीखा मिर्च पाउडर मिलता है उसके तो कहने ही क्या? वही तो है जो इस वड़ा पाव का टेस्ट किंग है। तो क्या इरादा है आपका। आप यहां का वड़ा पाव ट्राई करना चाहेंगे या नहीं हमें कमेंट करके बताएं।

Read also लज़ीज़ पराठों की जादुई नगरी | PRANTHO KI JADUI NAGRI

टुंडे कबाब

फ्रेंड्स हम नाॅनवेज की बात करें और नवाबों के शहर लखनऊ को याद न करें ऐसा तो हो ही नहीं सकता। नाॅनवेज खाने वालों के लिए लखनऊ बेस्ट प्लेस है। जो लोग नाॅनवेज के शौकीन हैं उन्होंने लखनऊ का स्पेशल टुंडे कबाब street food कभी न कभी जरूर ट्राई किया होगा। वैसे तो लखनऊ में बहुत सी नाॅनवेज आइटम्स फेमस हैं जैसे कि बटर चिकन, मुर्ग मसल्लम, फिश फ्राई या फिर और भी कई डिशेज़्। क्यों आने लगा ना मुंह में पानी?

लेकिन दोस्तों अगर आप लखनऊ गए और आपने यहां का टुंडे कबाब ट्राई नहीं किया, तो समझिए आपका लखनऊ जाना बेकार हो गया। जैसा टुंडे कबाब यहां पर मिलता है वैसा तो पूरे भारत में भी नहीं मिलता। यहां तक कि नाॅनवेज के लिए वल्ड फेमस हैदराबाद  street food भी लखनऊ में मिलने वाले टुंडे कबाब को आज तक बीट नहीं कर पाया। कई वर्षों से लखनऊ का टुंडे कबाब लखनऊ वासियों की, खासकर नाॅनवेज खाने वालों की पहली पसंद बना हुआ है। यहां मिलने वाला टुंडे कबाब मीट के कीमे से बनाया जाता है। इसकी खासियत ये है दोस्तों कि ये इतना साॅफ्ट होता है कि मुंह में रखते ही घुल जाए।

पाव भाजी street food

दोस्तों, अब आपको बताते हैं मुंबई के एक और फेमस स्ट्रीट फूड के बारे में जिसका नाम है street food पाव भाजी। पाव और भाजी की जोड़ी ऐसी ही है जैसे राम और सीता की जोड़ी। पाव को भाजी बहुत पसंद है और दोनों की जोड़ी हमारे फूडीज़ को बहुत पसंद है। पाव भाजी भले ही किसी भी शहर में बनती हो, लेकिन जो पाव भाजी महाराष्ट्र में बनती है वो कहीं और नहीं मिल सकती। हमारे फूड लवर street food रोज़ यहां पर मिलने वाली पाव भाजी का स्वाद चखने आते हैं। फिर भले ही इसके लिए उन्हें मीलों की दूरी ही क्यों न तय करनी पड़े।

दोस्तों यहां की भाजी में जो बात है वो और कहां। भाजी के स्वाद में चार चांद लगाता है उसका तीखापन। जैसा कि आप जानते हैं भाजी में ढेर सारी सब्जियों को मिलाया जाता है। इसलिए यह पेरेंट्स के लिए तो और भी अच्छी बात है। कम से कम बच्चे इसी बहाने कुछ हरी सब्ज़ीयाँ तो खा लेंगे। भाजी के साथ मुंबई में जो बटर में सेंका हुआ पाव मिलता है। ओये होये होये। कसम से मजा ही आ जाता है इसे खा कर। भाजी के उपर फिर से पड़ने वाला मक्खन, ढेर सारा प्याज और रसीला नींबू। ये मिल जाए तो समझो जन्नत मिल गई। आप अगर मुंबई आएं तो इसे जरूर ट्राई करें।

Read also भारत के लज़ीज़ पकवान | Delicious Indian Food

गोलगप्पे

हम जानते हैं आप में से बहुत से लोग पानी-पुरी के दीवानें होंगे। खासतौर पर लड़कियों के लिए तो पानी-पुरी उनका सबसे पहला प्यार street food होता है। उसपर भी अगर पानी-पुरी तीखी और चटपटी हो तो फिर कहने ही क्या? पूरी दुनिया में कोई ऐसी मार्केट नहीं होगी जहां पर किसी गली-मोहल्ले में गोलगप्पों के लिए कोई जगह रिज़र्व न की गई हो। आपको अगर वाकई गोलगप्पों का आनंद लेना है तो आप कोलकाता आकर यहां का पानी पूरी जरूर ट्राई करें। गोलगप्पे के अलग-अलग स्थानों पर अलग अलग नाम होता है। कई जगह इसे गुपचुप कहा जाता है। कहीं पर बताशे तो कहीं पर पुचका। कलकत्ता में इसे पुचका कहते हैं।

गोलगप्पे के स्वाद को दस गुना बढ़ाने का काम करता है इसमें भरा जाने वाला मसाला जो आलू या मटर में मिक्स करके बनाया जाता है। ज्यादातर जगहों पर गोलगप्पे के अंदर आलू ही भरा जाता है। अगर आप उत्तर प्रदेश जाएंगे तो यहां पर आपको आलू की बजाए गोलगप्पों में मटर भरी हुई मिलेगी। इसके साथ कोलकाता में तीखी चटनी भी मिलती है जो आपके कान से धुआं निकालने और पुचके का स्वाद बढ़ाने के लिए काफी है। वैसे कहा जाता है कि गोलगप्पे की शुरूआत तब हुई थी जब द्रौपदी आपने पांचों पतियों के साथ अपने ससुराल आई थी। तब कुंती ने उसे कुछ ऐसा बनाने को कह दिया जिससे उसके पतियों का पेट भर जाए। तब उसने अपनी पाक कला का प्रदर्शन street food किया और लज़ीज़ गोलगप्पे बनाए। कहते हैं इसी कारण कुंती ने द्रोपदी को अमरता का वरदान भी दिया था।

छोले भटूरे

दोस्तों, अब लास्ट बट नाॅट द लीस्ट जी। अब हम बात करते हैं छोले भटूरे की। दरअसल, छोले भटूरे को पंजाबियों की शान कह दिया जाए, तो गलत नहीं होगा। पंजाबियों में छोले भटूरे खाने का बहुत क्रेज़् होता है। हम स्ट्रीट फूड की बात कर रहे हैं और छोले भटूरे का जिक्र न करें, ऐसा कैसे हो सकता है। चलिए आपको बाताते हैं कि कहां के छोले भटूरे सबसे ज्यादा फेमस है? वैसे तो छोले भटूरे पूरे भारत में अलग अलग तरह से बनाए जाते हैं और लोगों को काफी पसंद भी आते हैं। लेकिन दिल्ली के छोले भटूरे अगर आपने खा लिए तो आपका दिन बन जाएगा। यहां पर छोले भटूरे खाने दूर दूर से लोग आते हैं। इतना ही नहीं दोस्तों, दिल्ली में छोले भटूरे इतने फेमस हैं कि अन्य शहरों में भी दुकान पर लिखा होता है ‘दिल्ली के स्पेशल छोले भटूरे’। अगर आपका दिल्ली में चक्कर लगे तो यहां के छोले भटूरों को अपनी मुंह की गुफा में समाना मत भूलना।

तो दोस्तों, इतनी सारी खाने की फेमस चीजों के बारे में बातें कर के हमारे मुंह में तो अभी से पानी अपने लगा है। हम तो चले इन स्ट्रीट फूड्स को चखने। फिर मिलेंगे एक नई जानकारी के साथ। तब तक के लिए ‘वड़क्कम’ जी।

Read also अपना लें ये आदतें, रहेंगे फिट | BODY KO FIT KAISE KARE

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here